शब्द रूप

शब्द की परिभाषा
वर्गों के सार्थक समूह को ‘शब्द’ कहते हैं, जैसे-राम, मोहन, विचित्रा, सुनीता आदि। इन शब्दों से कुछ न कुछ अर्थ अवश्य निकलता है। अतः ये सभी शब्द हैं। संस्कृत में शब्द के दो भेद होते हैं।

  1. विकारी शब्द जिस शब्द में विकार पैदा होता है अर्थात् जो शब्द लिंग, वचन, कारक के अनुसार परिवर्तित हो जाता है, उसे ‘विकारी शब्द’ कहते हैं। विकारी शब्द लिंग, वचन, कारक आदि के प्रयोग से अनेक भागों में बँट जाता है; जैसे- देव, मोहन, लता आदि।
  2. अविकारी शब्द जिस शब्द में विकार पैदा नहीं होता है, उसे ‘अविकारी शब्द कहते हैं; जैसे-अत्र, तत्र, कुत्र, च, अपि आदि। ये सभी शब्द हमेशा इसी अवस्था में रहते हैं।

शब्दों के प्रकार
संस्कृत के सभी शब्द दो प्रकार के होते हैं।

  1. स्वरान्त जिस शब्द के अन्त में स्वर वर्ण (अ, आ, इ, ई, उ, ऊ, ए, ऐ, ओ, औ, ऋ आदि वर्गों में से कोई एक वर्ण) हो, उसे ‘स्वरान्त वर्ण’ कहते हैं; जैसे- देव, मुनि, लता, नदी, साधु, वधू आदि। इन सभी शब्दों के अन्त में क्रमशः अ, इ, आ, ई, उ, ऊ स्वर वर्ण हैं। अतः ये सभी शब्द स्वरान्त हैं।
  2. व्यंजनान्त जिस शब्द के अन्त में व्यंजन हो, उसे ‘व्यंजनान्। शब्द’ कहते हैं; जैसे-बलवत्, जगत्, भगवत् आदि। इन सभी शब्दों के अन्त में व्यंजन वर्ण है। तथा स्वर न होने के कारण हलन्त (,) का चिह्न लगा हुआ है।

नोट नवीनतम पाठ्यक्रम के अनुसार पाठ्यक्रम में लिंगों के अन्तर्गत संज्ञा व सर्वनाम का चयन किया गया है।

बहविकल्पीय प्रश्न

प्रश्न 1.
‘जगत्सु’ रूप हैं ‘जगत्’ शब्द का (2018)
(क) तृतीया विभक्ति एकवचन
(ख) चतुर्थी विभक्ति, द्विवचन
(ग) सप्तमी विभक्ति, बहुवचन
(घ) द्वितीया विभक्ति, बहुवचन

प्रश्न 2.
‘यस्मै रूप है ‘यत्’ शब्द का (2018)
(क) पंचमी विभक्ति, बहुवचन
(ख) चतुर्थी विभक्ति एकवचन
(ग) सप्तमी विभक्ति, द्विवचन
(घ) तृतीया विभक्ति, बहुवचन

प्रश्न 3.
‘यस्मात् (2018)
(क) तृतीया,. द्विवचन
(ख) पंचमी, एकवचन
(ग) चतुर्थी एकवचन
(घ) द्वितीया, एकवचन

प्रश्न 4.
येषाम् (2018)
(क) तृतीया, द्विवचन
(ख) षष्ठी, बहुवचन
(ग) चतुर्थी, एकवचन
(घ) द्वितीया, एकवचन

प्रश्न 5.
‘नाम्ना (2018)
(क) तृतीया, एकवचन
(ख) तृतीया, बहुवचन
(ग) चतुर्थी, बहुवचन
(घ) चतुर्थी, एकवचन

प्रश्न 6.
‘सरिति (2018)
(क) षष्ठी, एकवचन
(ख) षष्ठी, बहुवचन
(ग) सप्तमी, एकवचन
(घ) पंचमी, एकवचन

प्रश्न 7.
‘अस्मै (2018)
(क) चतुर्थी, एकवचन
(ख) चतुर्थी, द्विवचन
(ग) पंचमी, बहुवचन
(घ) पंचमी, एकवचन

प्रश्न 8.
‘आत्मनि’ रूप है ‘आत्मन’ शब्द का (2018)
(क) प्रथमा, एकवचन
(ख) चतुर्थी, एकवचन
(ग) सप्तमी, एकवचन

प्रश्न 9.
‘सर्वस्यै’ रूप है ‘सर्व’ (स्त्रीलिंग) का (2018)
(क) द्वितीया, एकवचन
(ख) चतुर्थी, एकवचन
(ग) पंचमी, एकवचन प्रश्न

प्रश्न 10.
येषाम् रूप है ‘यत्’ शब्द (पुल्लिग) का (2018, 17)
(क) षष्ठी विभक्ति, बहुवचन
(ख) पंचमी विभक्ति, एकवचन
(ग) तृतीया, बहुवचन प्रश्न

प्रश्न 11.
‘जगते’ रूप है जगत् का (2017)
(क) सप्तमी, एकवचन
(ख) द्वितीय, द्विवचन
(ग) चतुर्थी, एकवचन

प्रश्न 12.
‘इदम्’ स्त्रीलिंग तृतीया बहुवचन का रूप है। (2017)
(क) आभिः
(ख) एभिः
(ग) अनया

प्रश्न 13.
‘आत्मानः’ रूप है ‘आत्मन्’ शब्द का (2017)
(क) पंचमी विभक्ति, एकवचन
(ख) द्वितीया विभक्ति, बहुवचन
(ग) प्रथमा विभक्ति, बहुवचन

प्रश्न 14.
‘यस्यै’ रूप है यत् (स्त्रीलिंङ्ग) का (2017)
(क) चतुर्थी विभक्ति, एकवचन
(ख) पंचमी विभक्ति एकवचन
(ग) तृतीया विभक्ति एकवचन

प्रश्न 15.
‘सरिति’ रूप है सरिता का (2017)
(क) द्वितीय द्विवचन
(ख) चतुर्थी एकवचन
(ग) सप्तमी एकवचन

प्रश्न 16.
सर्वस्य रूप है सर्व (पुल्लिग) का
(क) पंचमी, एकवचन
(ख) षष्ठी, एकवचन
(ग) चतुर्थी, एकवचन

प्रश्न 17.
‘एषाम् (2017)
(क) षष्ठी, बहुवचन
(ख) चतुर्थी, एकवचन
(ग) चतुर्थी, द्विवचन
(घ) तृतीया, द्विवचन

प्रश्न 18.
सर्वस्मै शब्द (नपुंसकलिंग) रूप है (2016)
(क) तृतीया, द्विवचन।
(ख) पंचमी, एकवचन
(ग) चतुर्थी, एकवचन
(घ) द्वितीया, बहुवचन

प्रश्न 19.
राजा (राजन्-पुल्लिंग) शब्द के द्वितीया, एकवचन का रूप है (2016)
(क) राज्ञा’
(ख) राज्ञः
(ग) राजानम्
(घ) राजभिः

प्रश्न 20.
अस्मै रूप है ‘इदम्’ पुल्लिग शब्द का (2016)
(क) षष्ठी, द्विवचन
(ख) सप्तमी, एकवचन
(ग) द्वितीया, बहुवचन
(घ) चतुर्थी, एकवचन

प्रश्न 21.
राजा शब्द के पुल्लिग, तृतीया एकवचन में रूप है (2016)
(क) राज्ञो
(ख) राज्ञः
(ग) राज्ञा
(घ) राज्ञोः

प्रश्न 22.
नाम्ने रूप है ‘नाम’ शब्द के (2016)
(क) चतुर्थी, एकवचन
(ख) प्रथम, द्विवचन
(ग) सप्तमी, एकवचन
(घ) पंचमी, एकवचन

प्रश्न 23.
सर्व पुल्लिग, पंचमी एकवचन का रूप होगा (2016)
(क) सर्वात्
(ख) सर्वस्मात्
(ग) सर्वस्य
(घ) सर्वस्मिन्

प्रश्न 24.
‘आत्मने’ रूप है आत्मन् (आत्मा) का (2017, 06)
(क) चतुर्थी विभक्ति, एकवचन
(ख) प्रथमा विभक्ति, द्विवचन
(ग) तृतीया विभक्ति, एकवचन
(घ) सप्तमी विभक्ति, बहुवचन

प्रश्न 25.
सरितु (नदी) स्त्रीलिंग, सप्तमी विभक्ति एकवचन का रूप होगा (2016)
(क) सरितौ
(ख) सरिते
(ग) सरिति
(घ) सरिता

प्रश्न 26.
‘आत्मभिः’ रूप है आत्मन् का (2016)
(क) द्वितीया विभक्ति, द्विवचन
(ख) सप्तमी विभक्ति एकवचन
(ग) तृतीया विभक्ति, बहुवचन
(घ) चतुर्थी विभक्ति, बहुवचन

प्रश्न 27.
‘सर्व’ स्त्रीलिंग, चतुर्थी विभक्ति, एकवचन का रूप है (2016)
(क) सर्वासु
(ख) सर्वाभ्यः
(ग) सवस्यै
(घ) सर्वभ्य

प्रश्न 28.
‘सरिते’ रूप है सरित् शब्द का (2017, 16)
(क) सम्बोधन एकवचन
(ख) प्रथमा एकवचन
(ग) द्वितीया एकवचन
(घ) चतुर्थी एकवचन

प्रश्न 29.
‘इदम्’ स्त्रीलिंग, सप्तमी बहुवचन का रूप होगा। (2018, 16)
(क) एषु
(ख) आसु
(ग) अस्मासु
(घ) अस्याम्

प्रश्न 30.
‘आत्मना’ आत्मन् शब्द रूप का है- (2018, 16)
(क) तृतीया, एकवचन
(ख) द्वितीया, द्विवचन
(ग) तृतीया, बहुवचन
(घ) चतुर्थी, एकवचन

प्रश्न 31.
‘राजनि’ शब्द रूप का है। (2016)
(क) प्रथम, द्विवचन
(ख) तृतीया, बहुवचन
(ग) सप्तमी, एकवचन
(घ) षष्ठी, द्विवचन

प्रश्न 32.
सर्व (स्त्रीलिंग) का तृतीया एकवचन का रूप है। (2016)
(क) सर्वम्
(ख) सर्वया
(ग) सर्वामिः
(घ) सर्वस्मै

प्रश्न 33.
‘सर्व’ पुल्लिङ्ग चतुर्थी एकवचन का रूप होगा (2015, 14, 13, 10)
(क) सर्वाम्
(ख) सर्वस्मिन्
(ग) सर्वस्मै
(घ) सर्वस्यै

प्रश्न 34.
‘सर्वस्मिन्’ शब्द रूप है, सर्व (पुल्लिङ्ग) का (2018, 12)
(क) द्वितीया, द्विवचन
(ख) तृतीया, एकवचन
(ग) चतुर्थी, द्विवचन
(घ) सप्तमी, एकवचन

प्रश्न 35.
‘नाम्नि’ रूप है ‘नामन्’ का (2013, 12)
(क) तृतीया, एकवचन
(ख) सप्तमी, एकवचन
(ग) चतुर्थी, बहुवचन
(घ) द्वितीया, बहुवचन

प्रश्न 36.
‘राज्ञाम्’ रूप है ‘राजन्’ का (2014, 11)
(क) सप्तमी, बहुवचन
(ख) पञ्चमी, एकवचन
(ग) तृतीया, द्विवचन
(घ) षष्ठी, बहुवचन

प्रश्न 37.
‘इदम्’ पुल्लिङ्ग द्वितीया बहुवचन का रूप होगा (2012)
(क) इमाः
(ख) इमान्
(ग) इमानि
(घ) इमाम

प्रश्न 38.
‘आत्मनु’ शब्द का षष्ठी बहुवचन रूप होगा (2014, 13)
(क) आत्मनि
(ख) आत्मनेः
(ग) आत्मनाम्
(घ) हे आत्मन्

प्रश्न 39.
‘राज्ञा’ शब्द रूप है, ‘राजन्’ शब्द का (2012)
(क) चतुर्थी, एकवचन
(ख) तृतीया, एकवचन
(ग) पञ्चमी, एकवचन
(घ) द्वितीया, द्विवचन

प्रश्न 40.
‘राज्ञि’ शब्द रूप है ‘राजन’ का (2011)
(क) तृतीया, बहुवचन
(ख) सप्तमी, एकवचन
(ग) षष्ठी, द्विवचन
(घ) द्वितीया, द्विवचन

प्रश्न 41.
‘सरिते’ शब्द रूप है ‘सरित्’ (नदी) शब्द के (2013, 12, 11)
(क) तृतीया, एकवचन
(ख) चतुर्थी, द्विवचन
(ग) चतुर्थी, एकवचन
(घ) पञ्चमी, द्विवचन

प्रश्न 42.
यत् (स्त्रीलिङ्ग) सप्तमी बहुवचन का रूप होगा (2014, 13)
(क) यस्यै
(ख) याभिः
(ग) यासाम्
(घ) यासु

प्रश्न 43.
‘राजभिः’ रूप है ‘राजन’ का (2010)
(क) षष्ठीं. द्विवचन
(ख) पञ्चमी, एकवचन
(ग) तृतीया, बहुवचन
(घ) सप्तमी बहुवचन

प्रश्न 44.
‘जगति’ रूप है ‘जगत्’ का (2015, 14, 13, 12, 10)
(क) सप्तमी, एकवचन
(ख) पंचमी, एकवचन
(ग) चतुर्थी, एकवचन
(घ) षष्ठी, एकवचन

प्रश्न 45.
‘सरिताम्’ शब्द रूप है ‘सरित’ शब्द का (2012)
(क) द्वितीया, एकवचन
(ख) सप्तमी, बहुवचन
(ग) तृतीया, द्विवचन
(घ) षष्ठी, बहुवचन

प्रश्न 46.
‘यत्’ (स्त्रीलिङ्ग) षष्ठी, बहुवचन का रूप होगा (2011)
(क) येषाम्
(ख) यासाम्
(ग) यस्याः
(घ) यस्यै

प्रश्न 47.
‘इदम्’ (पुल्लिङ्ग) शब्द का चतुर्थी विभक्ति एकवचन का रूप है। (2018, 14, 13, 11)
(क) इमे
(ख) अस्य
(ग) एषु
(घ) अस्मै

प्रश्न 48.
‘सर्व’ (स्त्रीलिङ्ग) शब्द के चतुर्थी एकवचन का रूप होगा (2014, 12, 11, 10)
(क) सर्वस्यै
(ख) सर्वस्मै
(ग) सर्वस्मिन्
(घ) सर्वेण

प्रश्न 49.
‘यत्’ (पुल्लिङ्ग) शब्द सप्तमी एकवचन का रूप होगा। (2012)
(क) यस्यै
(ख) यस्मात्
(ग) येन
(घ) यस्मिन्

प्रश्न 50.
‘सर्व’ (सब) (पुल्लिङ्ग) तृतीया बहुवचन का रूप होगा (2010)
(क) सर्वान्
(ख) सर्वेषु
(ग) सर्वेः
(घ) सर्वेभ्यः

प्रश्न 51.
‘अदस्’ (पुल्लिङ्गः तृतीया एकवचन का रूप होगा । (2010)
(क) अमुना
(ख) अमूभ्याम्
(ग) अभून्
(घ) अमुष्मै

प्रश्न 52.
‘अनेन’ रूप है ‘इदम्’ (पुल्लिङ्ग) का (2013, 11, 10)
(क) तृतीया, एकवचन
(ख) चतुर्थी, द्विवचन
(ग) द्वितीया, बहुवचन
(घ) पञ्चमी, द्विवचन

प्रश्न 53.
‘अयम्’ शब्द रूप है ‘इदम्’ (पुल्लिङ्ग) का (2014)
(क) द्वितीया, एकवचन
(ख) प्रथमा, एकवचन
(ग) पंचमी, द्विवचन
(घ) सप्तमी, एकवचन

प्रश्न 54.
‘नाम्ने’ रूप है ‘नाम’ का (2014, 12)
(क) द्वितीया, बहुवचन
(ख) चतुर्थी, एकवचन
(ग) षष्ठी, द्विवचन
(घ) सप्तमी, एकवचन

प्रश्न 55.
‘येभ्यः’ रूप है ‘यद्’ (नपुंसकलिङ्ग) का (2011)
(क) चतुर्थी, बहुवचन
(ख) प्रथम, द्विवचन
(ग) तृतीया, एकवचन
(घ) सप्तमी, एकवचन

प्रश्न 56.
‘हरीणाम् रूप है ‘हरि’ का (2013, 12)
(क) प्रथम, द्विवचन्
(ख) षष्ठी, बहुवचन
(ग) सप्तमी, एकवचन
(घ) चतुर्थी, एकवचन

प्रश्न 57.
‘इदम्’ (पुल्लिङ्ग) तृतीया एकवचन का रूप है (2018, 14)
(क) अनया
(ख) अनेन
(ग) अस्य
(घ) आसु

प्रश्न 58.
‘राज्ञः’ शब्द रूप है ‘राजन’ का (2014, 12)
(क) द्वितीया, बहुवचन
(ख) तृतीया, एकवचन
(ग) पंचमी/धष्ठी, एकवचन
(घ) सप्तमी, बहुवचन

प्रश्न 59.
‘राजन’ शद का द्वितीया द्विवचन का रूप होगा (2014)
(क) राज्ञोः
ख) राज्ञः
(ग) राज्ञाम्
(घ) राजानौ

प्रश्न 60.
‘सर्व’ (पुल्लिङ्ग) सप्तमी द्विवचन का रूप होगा (2013)
(क) सर्वाभ्याम्
(ख) सर्वैः
(ग) सर्वस्य
(घ) सर्वयोः

प्रश्न 61.
‘सरित्’ (नदी) स्त्रीलिङ्ग चतुर्थी एकवचन का रूप होगा (2017)
(क) सरिति
(ख) सरिते
(ग) सरितम्
(घ) सरितः

प्रश्न 62.
‘सरिता’ रूप है ‘सरित्’ का (2018, 15, 14, 13, 12)
(क) प्रथमा, एकवचन
(ख) द्वितीया, एकवचन
(ग) तृतीया, एकवचन
(घ) चतुर्थी, एकवचन

प्रश्न 63.
‘नामसु’ शब्द रूप है ‘नामन्’ को (2013, 06)
(क) द्वितीया, एकवचन
(ख) सप्तमी, बहुवचन
(ग) षष्ठी, द्विवचन
(घ) पंचमी, बहुवचन

प्रश्न 64.
‘रा’ शब्द रूप है ‘राजन्’ शब्द का (2015, 13, 12, 11)
(क) तृतीया, एकवचन
(ख) चतुर्थी, एकवचन
(ग) पंचमी, बहुवचन
(घ) सप्तमी, एकवचन

प्रश्न 65.
‘अदस्’ (पुल्लिङ्ग) षष्ठी बहुवचन का रूप होगा। (2011)
(क) अमुष्मै
(ख) अभूभ्याम्
(ग) अमुष्मिन्
(घ) अमीषाम्

प्रश्न 66.
‘यद्’ (पुल्लिङ्ग) द्वितीया बहुवचन का रूप है। (2012)
(क) याः
(ख) यानि
(ग) यान्
(घ) यै

प्रश्न 67.
‘आत्मने’ शब्द रूप है ‘आत्मन्’ का (2014, 13, 12, 11, 10)
(क) पंचमी, एकवचन
(ख) चतुर्थी, एकवचन
(ग) तृतीया, एकवचन
(घ) षष्ठी, एकवचन

प्रश्न 68.
सर्वस्यै (2012)
(क) प्रथमा, बहुवचन
(ख) पञ्चमी, एकवचन
(ग) षष्ठी, द्विवचन
(घ) चतुर्थी, एकवचन

प्रश्न 69.
‘एभिः’ रूप है ‘इदम्’ शब्द का (2018, 19)
(क) पंचमी, एकवचन
(ख) तृतीया, बहुवचन
(ग) द्वितीया, द्विवचन
(घ) सप्तमी, बहुवचन

प्रश्न 70.
‘यत् स्त्रीलिङ्गा प्रथमा, एकवचन का रूप होगा। (2013)
(क) यः
(ख) या
(ग) ये
(घ) यौ

उत्तर
1. (ग), 2. (ख), 3. (ख), 4. 5. (क), 6. (ग), 7. (क) 8. (ग), 9. (ख), 10. (क), 11. (ग),12. (क), 13. (ग), 14. (क), 15. (ग), 16. (ख), 17. (क), 18. (ग), 19. (ग), 20. (घ), 21. (ग), 22. (क), 23. (ख), 24. (क), 25. (ग), 26. (ग), 27. (ग), 28. (घ), 29. (ख) , 30. (क), 31. (ग), 32. (ग), 33. (ग), 34. (घ), 35. (ख), 36. (घ) , 37. (ख), 38. (ग), 39. (ख), 40. (ख), 41. (ग), 42. (घ), 43. (ग), 44. (क), 45. (घ), 46. (ख), 47. (घ), 48. (क), 49. (घ), 50. (ग), 51. (क), 52. (क), 53. (ख), 54. (ख), 55. (क), 56. (ख), 57. (ख), 58. (ग), 59. (घ), 60. (घ), 61. (ख), 62. (ग), 63. (ख), 64. (ख), 65. (घ), 66. (ग), 67. (ख), 68. (घ), 69. (ख), 70. (ख)

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *